TRUE VALUE OF LIFE(जीवन का मूल्य )


TRUE VALUE OF LIFE(जीवन का मूल्य )

MOTIVATIONAL STORY IN HINDI

true value of life

 एक समय की बात एक गांव में आदमी रहता था .वह बहुत अमीर था उसके  पास किसी चीज की कमी नहीं थी लेकिन फिर भी उसे समझ नहीं आता था की आखिर जिंदगी का महत्व क्या है .अगले दिन वह भगवान के पास गया और पूछा हे प्रभु आपने मुझे वो सब  कुछ दिया है मेरे जीवन में लेकिन मुझे समझ नहीं आता आखिर इस 'जीवन का मूल्य क्या है?


भगवान ने उसे एक पत्थर दिया और कहा  कि बिना उसे बेचे उसका मूल्य पता करें। भगवन ने फिर उससे कहा ध्यान रहे इसे बेचना नहीं है |

वह आदमी पत्थर को एक सेब विक्रेता के पास ले गया और उसकी कीमत पूछी।

सेब विक्रेता ने इसके लिए 20 सेबों देने को राज़ी हो गया। लेकिन आदमी ने मना कर दिया और सेब वाले से कहा कि भगवान ने उसे इसे बेचने के लिए नहीं कहा।

वह दूकान के पास गया और उससे पूछा कि इस पत्थर का मूल्य क्या है। दूकान वाले ने उस पत्थर को और उसने एक बोरी  चावल पेशकश की जिसे उस आदमी  ने मना कर दिया।

फिर वह गहने की दुकान पर गया और फिर से पत्थर की कीमत के बारे में पूछा।

 जौहरी ने उस पत्थर का दाम 5 लाख की बताई | जिसे आदमी  स्वीकार करने से इनकार कर दिया, लेकिन जौहरी ने 10लाख  देनें को राज़ी हो गया ।

लेकिन आदमी ने समझाया कि उसे पत्थर नहीं बेचना चाहिए।

MOTIVATINAL STORY IN HINDI .COM

अंत में, वह एक कीमती पत्थर की दुकान पर गया और उसने फिर से पत्थर के मूल्य के बारे में पूछा।

विक्रेता ने देखा कि माणिक्य(Ruby) है उसने  उसे एक कपड़े पर रख दिया और उस पत्थर को परखने लगा ।

उसने उस आदमी से पूछा कि उसे ए पत्थर कहाँ से मिला और उससे कहा कि वह इसे कभी नहीं खरीद पाएगा, भले ही वह  पूरी दुनिया और अपनी पूरी जिंदगी भी  बेच दे फिर भी वह कभी उस पत्थर को नहीं ख़रीद पाएगा ।

वह आदमी सुन के दंग रह गया और वापस भगवान के पास गया और उन्हें समझाया कि क्या हुआ।

फिर उसने भगवान से एक बार और पूछा "जीवन का मूल्य क्या है"?

भगवान् ने उस आदमी से कहा इसका जवाब तो तुम्हे पहले ही मिल गया है \

MOTIVATIONAL STORY IN HINDI FOR SUCCESS

जैसे तुमने अलग अलग दुकानों,विक्रेताओं,जौहरी और पत्थर वाले पास गए उन्होंने तुम्हे उस पत्थर का मूल्य अपनी अपनी जानकारी के हिसाब से बताया वैसे ही लोग भी तुम्हे अपनी सोच और जानकारी के हिसाब से से ही महत्व देंगे | तुम्हे घबराना नहीं है और नाही डरना है बस तुमको धैर्य रखना है और सही समय का इंतजार करना है| 

हमारा जीवन भी उस पत्थर की तरह है हमे हमारे जीवन का मह्त्व तब तक नहीं पता चलेगा जब तक हम किसी ऐसे इंसान के पास नहीं जाते जो की हमको समझे और हमारे जीवन को महत्व दे। 

इसलिए हमे अपने जीवन में कभी थक कर बैठना नहीं है हमे हमेशा प्रयास करते रहना चाहिए।

Previous
Next Post »